HomeAustralia vs Indiaवनडे: भारत की हार-जीत में ऐसा रहा है रोहित हिटमैन का प्रदर्शन,...

वनडे: भारत की हार-जीत में ऐसा रहा है रोहित हिटमैन का प्रदर्शन, इतने फीसदी मैचों में मिली जीत

रोहित शर्मा ने भारत के लिए 23 जून 2007 को वनडे डेब्यू किया था। लेकिन उनको बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था।

वनडे: भारत की हार-जीत में ऐसा रहा है रोहित हिटमैन का प्रदर्शन, इतने फीसदी मैचों में मिली जीत
रोहित शर्मा (Photo credit: Twitter)

ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा भारतीय टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। उनकी मौजूदगी या गैरमौजूदगी टीम के प्रदर्शन पर प्रभाव जरूर डालती है। जब उनका बल्ला चलता है तब एक नया इतिहास भी बन जाता है। केवल बल्ले से ही नहीं बल्कि बतौर कप्तान भी रोहित शर्मा ने शानदार खेल दिखाया है। आज के इस लेख में हम ऐसे ही वनडे के कुछ आंकड़ों पर नजर डालेंगे जो भारतीय टीम की हार-जीत में रोहित का प्रदर्शन बयां करेंगे।

रोहित शर्मा ने भारत के लिए 23 जून 2007 को वनडे डेब्यू किया था। लेकिन आयरलैंड के खिलाफ उस मैच में उनको बल्लेबाजी का मौका नहीं मिल पाया था। उन्होंने इसके दो दिन बाद साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपनी पहली वनडे पारी खेली। इन 13 सालों में रोहित ने 224 वनडे मैच खेले हैं जहां करीब 50 के औसत से 9115 रन बनाए। उनके नाम 29 शतक और 43 अर्धशतक जमा है।

भारत की हार-जीत में रोहित हिटमैन का ओवरऑल प्रदर्शन

रोहित शर्मा 224 वनडे मैचों में भारतीय टीम का हिस्सा रहे हैं। इन 224 मैचों में से भारत को 136 मैचों में जीत मिली है। जहां रोहित ने करीब 60 के औसत से बल्लेबाजी करते हुए 6359 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 22 शतक और 28 अर्धशतक निकले। वहीं रोहित के खेलते हुए भारत ने 78 मैच गंवा दिए। जिसमें उन्होंने 2660 रन बनाए और उनका औसत 35.4 का रहा। हारे हुए वनडे में उनके शतकों और अर्धशतकों की संख्या क्रमशः 7 और 15 रही।

इसके अलावा 3 वनडे टाई और 7 मैच बिना किसी परिणाम के खत्म हुए। आंकड़ों की गणना करे तो हम पाएंगे कि रोहित की मौजूदगी में भारतीय टीम ने 61 फीसदी मैच जीते हैं। जबकि इस दौरान भारत को 35 प्रतिशत मैचों में हार का मुंह देखना पड़ा।

बतौर ओपनर रोहित शर्मा का प्रदर्शन

रोहित शर्मा को टीम इंडिया के लिए ओपनिंग का मौका डेब्यू करने के करीब 4 साल बाद 2011 में मिला था। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में पहली बार भारत के लिए पारी की शुरुआत की थी। बतौर ओपनर रोहित ने 140 वनडे खेले हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 138 इनिंग्स में 58.1 के औसत से 7148 रन और 27 शतक व 31 अर्धशतक आए हैं।

इन 140 मैचों में से भारत को 88 मैचों में जीत हासिल हुई है। जीते हुए इन 88 वनडे में रोहित ने लगभग 70 के औसत से 5261 रन, 21 शतक और 22 अर्धशतक अपने नाम किए। वहीं 140 में से 47 मुकाबले भारत जीत नहीं सका। हारे हुए मैचों में रोहित ने 40 के औसत से 1835 रन बनाते हुए 6 शतक और 9 अर्धशतक लगाए। वहीं 2 मैच टाई और 3 मैच बेनतीजा रहे। जब रोहित शर्मा ने भारत के लिए वनडे में ओपनिंग की तब टीम ने 63 फीसदी मैचों में सफलता दर्ज की। जबकि 34 प्रतिशत मैच गंवा दिए।

बतौर कप्तान रोहित शर्मा का प्रदर्शन

रोहित को 10 वनडे मैचों में कप्तानी का मौका मिला है। इन 10 मैचों में रोहित ने 77.5 के औसत से 543 रन बनाए और 2 शतक और इतने ही अर्धशतक लगाए। जिसमें उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 208 रन रहा। रोहित की कप्तानी में भारत ने 8 मैच जीते हैं जबकि 2 मैचों में हार का सामना करना पड़ा। उनके नेतृत्व में भारत का जीत का प्रतिशत 80 और हार का प्रतिशत 20 रहा।

इन जीते हुए 8 मैचों में रोहित के बल्ले से करीब 106 के औसत से 534 रन आए हैं। इस दौरान उन्होंने 2 शतक और अर्धशतक समेत 208 रनों की सर्वश्रेष्ठ पारी खेली। हारे हुए शेष 2 मुकाबलों में उन्होंने 9 रन बनाए। अब भारत को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 27 नवंबर से तीन वनडे और तीन टी-20 रोहित के बगैर खेलना है। ऐसे में अब भारतीय टीम के प्रदर्शन पर सभी की नजरें टिकी होंगी।

Manoj kumar
Manoj kumarhttps://ekcupcricket.com/
मुझे क्रिकेट का जुनून बचपन से रहा है। क्रिकेट के प्रति प्रेम ने मुझे इसके बारे में लिखने के लिए प्रेरित किया। सचिन तेंदुलकर मेरे सबसे पसंदीदा खिलाड़ी हैं। करीब पांच वर्षों से इस खेल के बारे में लिख रहा हूं। आगे भी इसी तरह की रोचक खबरें लाने का प्रयास जारी रहेगा।

नवीनतम