HomeIndiaटी20 वर्ल्ड कप 2022 के प्रबल दावेदार के साथ हुई नाइंसाफी! 15...

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के प्रबल दावेदार के साथ हुई नाइंसाफी! 15 सदस्यीय स्क्वाड में मिलनी थी जगह

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के प्रबल दावेदार के साथ हुई नाइंसाफी! 15 सदस्यीय स्क्वाड में मिलनी थी जगह
टी20 वर्ल्ड कप 2022 के प्रबल दावेदार के साथ हुई नाइंसाफी! 15 सदस्यीय स्क्वाड में मिलनी थी जगह

टी20 वर्ल्ड कप 2022 (T20 World Cup 2022) के लिए भारतीय टीम (Team India) का ऐलान हो गया है। बीसीसीआई ने सोमवार को रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्तानी में 15 सदस्यीय टीम की घोषणा की। सौ प्रतिशत फिट होने के बाद टीम में जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) और हर्षल पटेल (Harshal Patel) की वापसी हो गई है। ये दोनों खिलाड़ी चोट के कारण एशिया कप समेत अन्य श्रृंखलाओं के लिए उपलब्ध नहीं थे।

इसके अलावा मध्यक्रम बल्लेबाज श्रेयस अय्यर, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी व दीपक चाहर और लेग स्पिनर रवि बिश्नोई को स्टैन्डबाई खिलाड़ी के तौर पर जगह मिली है। चलिए अब बताते हैं उस उस खिलाड़ी के बारे में जो ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर होने वाले वर्ल्ड कप में खेलने का प्रबल दावेदार था।

टी20 वर्ल्ड कप का प्रबल दावेदार था ये खिलाड़ी

अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में शुरू हो रहे टी20 विश्व कप के लिए बीसीसीआई ने तगड़ी टीम का चुनाव किया है। लेकिन इस टीम में एक ऐसा खिलाड़ी शामिल नहीं जो पिछले कुछ मैचों में टीम इंडिया के लिए दमदार प्रदर्शन करता आया है। हम बात कर रहे हैं 22 वर्षीय युवा स्पिन गेंदबाज रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) की। गौरतलब हो कि बिश्नोई स्टैन्डबाई खिलाड़ी के रूप में ऑस्ट्रेलिया जाएंगे। लेकिन पिछले कुछ मुकाबलों में जिस तरह का खेल इस गेंदबाज ने दिखाया, वे टी20 वर्ल्ड कप की 15 सदस्यीय भारतीय टीम में जगह पाने के हकदार थे।

हालिया एशिया कप में रवि बिश्नोई को केवल एक मैच खेलने का मौका मिला था। पाकिस्तान के खिलाफ उस मैच में युजवेंद्र चहल समेत भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक पांड्या जैसे बड़े खिलाड़ियों ने 10 से ज्यादा की इकोनॉमी से रन लुटाए थे। वहीं बिश्नोई ने 4 ओवर में 26 रन देकर 1 विकेट लेकर सबसे बेहतरीन गेंदबाजी की थी। अगर बिश्नोई की बॉल पर अर्शदीप ने आसिफ अली का कैच पकड़ लिया होता तो शायद आज एशिया कप की ट्रॉफी भारत के खाते में होती।

लेकिन इस शानदार प्रदर्शन के बाद भी चहल और अश्विन को तरजीह देते हुए बिश्नोई को श्रीलंका के विरुद्ध अगले मैच से बाहर कर दिया गया।

एशिया कप के पहले रवि बिश्नोई वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 श्रृंखला में सबसे सफल भारतीय गेंदबाज रहे थे। उन्होंने 3 मैचों में 10.4 ओवर में 8 विकेट झटके थे। जहां उनका औसत 8.62 और इकोनॉमी 6.46 का रहा था। उन्होंने 16 रन के बदले 4 विकेट का सर्वोच्च प्रदर्शन किया था।

बता दें कि पिछले 5 टी20 मैचों में रवि बिश्नोई ने 18.4 ओवर में 125 रन खर्च कर 11 विकेट झटके हैं। वहीं युजवेंद्र चहल ने अंतिम 5 टी20 में 18.0 ओवर में 137 रन के देकर 6 विकेट लिए हैं। जबकि आर अश्विन ने 5 मुकाबलों के दौरान 20 ओवर में 139 रन के बदले 5 विकेट हासिल किए। इन आंकड़ों की माने तो फिलहाल चहल और अश्विन से बेहतर गेंदबाज बिश्नोई नजर आ रहे हैं।

Manoj kumar
Manoj kumarhttps://ekcupcricket.com/
मुझे क्रिकेट का जुनून बचपन से रहा है। क्रिकेट के प्रति प्रेम ने मुझे इसके बारे में लिखने के लिए प्रेरित किया। सचिन तेंदुलकर मेरे सबसे पसंदीदा खिलाड़ी हैं। करीब पांच वर्षों से इस खेल के बारे में लिख रहा हूं। आगे भी इसी तरह की रोचक खबरें लाने का प्रयास जारी रहेगा।

नवीनतम